नेता जी और शिवपाल जी के आने से हुई बेहद खुशी : अखिलेश यादव..

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव परिवार के बीच की तल्खी को कम करने के पूरे प्रयास में हैं। लखनऊ से उन्नाव तक आज विकास रथ यात्रा पर निकले अखिलेश यादव को सबसे अधिक खुशी राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव के साथ प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव के यात्रा को हरी झंडी दिखाने के कार्यक्रम में आने से हुई।

यात्रा के दौरान अखिलेश यादव ने अपनी इस खुशी का इजहार भी किया। गाड़ी के गोमतीनगर के पत्रकारपुरम में पहुंचने पर उन्होंने कहा कि नेताजी के साथ प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव के यात्रा को रवाना करने के कार्यक्रम में आने की मुझे बेहद खुशी है। उन्होंने कहा कि कल तक लोग बेवजह हवा उड़ा रहे थे कि शिवपाल सिंह यादव ने कार्यक्रम में आने से मना कर दिया है।
अखिलेश यादव ने कहा कि मेरे ऊपर नेताजी तथा चाचा शिवपाल के साथ ही आजम खां व प्रोफेसर चाचा का भी आशीर्वाद है। प्रदेश में किसी भी पार्टी के साथ गठबंधन की बात शुरुआत होने के बारे में अखिलेश ने कहा कि अभी मुझे इसके बारे में कुछ भी पता नहीं है। गठबंधन या फिर किसी महागठबंधन की मुझे जानकारी नहीं है। उन्होंने कहा कि हम जनता के भरोसे एक बार फिर चुनावी मैदान में उतरेंगे। उन्होंने साफ कहा कि न हम किसी से नाराज हैं, न ही कोई हमसे।
उन्होंने कहा कि जनता का समर्थन मिले, तो फिर एक बार हमारी सरकार बनेगी। हमको जनता के बीच सरकार के कामों को बताना है। इस दौरान कई यात्राएं होंगी, अब जनता आंकलन करेगी। अखिलेश ने भरोसा जताया कि समाजवादी सरकार बहुमत की बनने वाली है। जनता सरकारों के कामों का आंकलन करेगी। उन्होंने कहा कि इस बार भी समाजवादी पार्टी के अलावा किसी को जनता का समर्थन नहीं मिलेगा। हमारे साथ जनता है। अब भी प्रदेश का मुस्लिम समाजवादी पार्टी के साथ ही धर्मनिरपेक्ष पार्टी के साथ है।
अखिलेश से युवाओं को बहुत आशा : डिंपल
विकास से विजय की ओर यात्रा पर मुख्यमंत्री के साथ निकलीं, उनकी सासंद पत्नी डिम्पल यादव ने कहा कि प्रदेश के हर युवा को अखिलेश यादव के ऊपर बहुत भरोसा है और हर युवा अखिलेश की ओर आशा के साथ देख रहा है। उन्होंने अखिलेश की रथ यात्रा को ऐतिहासिक बताया।
डिंपल ने कहा कि अखिलेश से युवाओं को बहुत आशा है। इसके साथ ही इनका सारा समर्थन भी अखिलेश को है। डिंपल ने कहा कि अखिलेश ने अपने अभी तक के चार वर्ष के कार्यकाल में बहुत काम किया है। जनता के साथ ही विपक्षी दल उनको ट्रेनी सीएम बता रहे हैं। अब आप को देखना है कि ट्रेनी सीएम ने अगर इतना काम किया है तो फिर अगर उनको अच्छा अनुभव होने पर कितना काम करेंगे। डिंपल ने बताया कि परिवार में किसी भी प्रकार का कोई मतभेद नहीं है।

🆎लोहिया पथ पर सीएम अखिलेश का रथ खराब, अब दूसरी गाड़ी पर सवार
करोड़ों की लागत से बना मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का रथ एक किलोमीटर भी नहीं चल सका। फिलहाल रथ तकनीकी खराबी के कारण खराब होकर लोहिया पथ पर खड़ा है। अखिलेश यादव इस रथ को वहीं पर छोड़कर आगे बढ़ रहे हैं। वह अपनी सरकारी गाड़ी से लखनऊ से उन्नाव की यात्रा पर निकले हैं।
इस दौरान सड़क पर चारों ओर  गाडिय़ां बेतरतीब ढंग से खड़ी हैं। जिसके कारण आठ लेन की सड़क पर भी जाम लगा है।लखनऊ से उन्नाव तक की करीब 117 किलोमीटर की यात्रा पर निकले इस रथ खराब होने की स्थिति में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव उसी में बैठे।इससे पहले उन्होंने रथ में लगी लिफ्ट से कालीदास मार्ग चौराहे पर लोगों को संबोधित भी किया था।विकास रथ छोड़ा,सरकारी गाड़ी से सीएम ने शुरू की यात्रा। रथ में खराबी के चलते सीएम गाड़ी पर सवार हुए। इससे पहले उन्होंने रथ में लगी लिफ्ट से कालीदास मार्ग चौराहे पर लोगों को संबोधित भी किया था। बताया जा रहा है कि जैसे ही इस रथ में लगी हाइड्रोलिक लिफ्ट का प्रयोग किया गया, उसमें से धुंआ निकलने लगा। इसके बाद से ही बस के इंजन ने काम करना बंद कर दिया।
अब खराब रथ लोहिया पथ पर खड़ा है। उसको ठीक करने का काम जारी है। मुख्यमंत्री के साथ सांसद डिंपल यादव भी रथ में प्रदेश के एक दर्जन मंत्रियों के साथ रथ में हैं। रथ को सुरक्षा घेरे में लिया गया है। मुख्यमंत्री के रथ को ठीक करने के लिए काम जारी है। रथ पिछले करीब 45 मिनट से लोहिया पथ पर ही खड़ा है। यह रथ को विश्वविख्यात मर्सिडीज बेंज कंपनी ने बनाया है।

पाकिस्तान से युद्ध समाधान नहीं है, बीच का रास्ता निकालें पीएम : मुलायम
Thu, 03 Nov 2र016 
लखनऊ (राज्य ब्यूरो)। समाजवादी पार्टी के मुखिया मुलायम सिंह यादव ने आज राजधानी के लामार्टिनियर ब्वायज स्कूल के मैदान से मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की विकास से विजय की ओर रथ यात्रा को रवाना किया। इस दौरान उनके साथ पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव भी मंच पर मौजूद थे।
अखिलेश को रथ यात्रा की सफलता की शुभकामना देने के साथ ही मुलायम सिंह ने सभा को संबोधित किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि मैं पाकिस्तान के साथ युद्ध नही चाहता। हमें पाकिस्तान के साथ संबंध बेहतर करने को बीच का रास्ता निकालना पड़ेगा
मुलायम सिंह यादव ने कहा कि हमारे सैनिकों की जान नहीं जानी चाहिए,हमे बीच का रास्ता निकालना होगा। उन्होंने कहा कि हमारे पास दुनिया की सबसे शक्तिशाली सेना है। अब सिर्फ नारेबाजी से काम नहीं चलेगा। उन्होंने कहा कि मैं शहीदों के मां व पिता को नमन करता हूं। उनके बेटों की वजह से हम सुरक्षित हैं।
मुलायम सिंह यादव ने कहा कि देश में समाजवादी पार्टी एक लंबे संघर्ष के बाद यहां पर आकर खड़ी है। हमारी पार्टी संघर्ष और कुर्बानी का दल है
शिवपाल सिंह यादव ने इस दल को यहां पर लाने में मुख्य भूमिका अदा की है। शिवपाल रात को देर से आते थे। इसके बाद भी सुबह जल्दी काम पर चले जाते थे। समाजवादियों ने बहुत झेला है। आंदोलन के दौरान हम पर लाठियां बरसाई गई। शिवपाल ने बहुत संघर्ष और मेहनत की है। हमारा एक ही ध्येय है कि अन्याय का विरोध करो। सपा में गुरुओं की मान्यता है। सपा कार्यकर्ता उसी का पालन करें। संघर्ष ने समाजवादी पार्टी को इतना बड़ा दल बनाया।
मुलायम सिंह उन्होंने कहा कि मैं इस रथयात्रा के लिए अखिलेश को ढेर सारी शुभकामना देता हूं। विश्वास है रथयात्रा से भारी बहुमत आएगा। रथयात्रा सफल हो। शुभकामनाएं,अखिलेश को रथयात्रा के लिए। आने वाले चुनाव में जिम्मेदारी संभालना है।
यूपी के विधानसभा चुनाव से देश की दिशा तय होगी : अखिलेश
रथयात्रा रवाना होने से पहले सीएम अखिलेश यादव ने भरोसा जताया कि एक बार फिर उत्तर प्रदेश की जनता समाजवादी पार्टी को प्रदेश की सत्ता सौंपेगी। अखिलेश यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश की जनता एक बार फिर फिर से इतिहास दोहराएगी। हमारी सरकार ने प्रदेश में विकास का ऐसा काम किया है जो कि मिसाल बन गया है। हमने सत्ता संभालने के बाद से लगातार काम किया है।
हम एक बार फिर से ज्यादा से ज्यादा जनता के बीच जायेंगे। हमने हर धर्म को जोडऩे का काम किया है। उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव से ही देश की दिशा भी तय होगी। अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी पार्टी ने समाज में संतुलन बनाने का काम किया है।यूपी का चुनाव देश की राजनीति बदलने का है। देश किनके हाथों में सोचना पड़ेगा, समाजवादी विचारधारा को और बढ़ाना है। घोषणापत्र को जमीन पर उतारा है, बिना भेदभाव, जाति-धर्म के काम किया। रथ का नाम समाजवादी विकास रथ रखा है।
अखिलेश ने कहा दोबारा समाजवादी सरकार बनानी है। दूसरे दलों के काम से हमारी तुलना जनता करे, साढ़ेचार साल लगातार हमने काम किया है। इस बार रथयात्रा में नौजवान भी जुट रहे हैं। यूपी की जनता इतिहास दोहराएगीज्यादा से ज्यादा जनता के बीच में जाना है। गांवों और शहरों के बीच संतुलन बनाया, एम्बुलेंस की तरह पुलिस भी फोन पर पहुंचेगी। मैं यहां पर एकत्र नौजवान का स्वागत करता हूं।
अखिलेश की यात्रा बनाएगी मुकाम : शिवपाल
इससे पहले तमाम तरह से कयास लगाए जा रहे थे और अधिकांश लोगों का मानना था कि शिवपाल सिंह यादव प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की इस रथयात्रा से दूरी बना के रखेंगे। इस मौके पर शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि अखिलेश यादव की रथयात्रा पूरे उत्तर प्रदेश में सन्देश देगी।
अखिलेश को मेरी तरफ से शुभकामनायें। उत्तर प्रदेश में नहीं बनने देंगे बीजेपी की सरकार, अखिलेश यादव की रथयात्रा को सफल बनाना है।अखिलेश यादव के काम को जन-जन एक पहुचायेंगे। 2017 में सपा की सरकार बनाना लक्ष्य है। नेताजी के संघर्ष से सपा का परचम लहरा रहा हैं।इस मौके पर शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि कार्यकर्ता जोश में किसी भी कीमत पर अपने होश को काबू में रखें। वह जरा भी होश न खोएं। आज कुछ कार्यकर्ताओं ने मंच के सामने ही अभद्रता की थी, इसी कारण शिवपाल सिंह यादव थोड़ा नाराज भी थे।
आज की लगभग एकदिनी रथयात्रा में लखनऊ जिले की कैन्ट, लखनऊ (पूर्वी) और सरोजनीनगर विधानसभा का क्षेत्र पड़ेगा।मुख्यमंत्री के सरकारी आवास के ठीक सामने लामार्टिनियर मैदान से शुरू होने वाली उनकी यात्रा लखनऊ व उन्नाव के छह विधानसभा क्षेत्रों से गुजरेगी। आज की करीब 115 किलोमीटर की इस यात्रा में सीएम अखिलेश यादव 12 स्थानों पर लोगों को संबोधित करेंगे और जगह उनका स्वागत होगा। घर की पूड़ी-आलू की सब्जी, चाय-कॉफी पीते हुए वह पहले दिन का सफर पूरा करेंगे। यात्रा के बाद मुख्यमंत्री लखनऊ वापस आ जाएंगे। दूसरे चरण की यात्रा सात नवंबर से शुरू होगी। आज लखनऊ के साथ ही उन्नाव में यात्रा मार्ग के स्कूलों को भी बंद कर दिया गया है
पांच वर्ष के बाद अखिलेश यादव फिर रथयात्री होंगे। इस बार वह बतौर मुख्यमंत्री जनता से मुखातिब होंगे और अपने काम के साथ भविष्य का खाका खींचकर समर्थन हासिल करने का प्रयास करेंगे। यात्रा के पहले दिन कहां रुकना है, कहां संबोधित करना है, यह सब खुद अखिलेश ने निर्धारित किया। जिन रास्तों से उनका रथ गुजरना है, उनमें लखनऊ जिले की कैन्ट, लखनऊ (पूर्वी) और सरोजनीनगर विधानसभा का क्षेत्र पड़ेगा।
इसके अलावा उन्नाव में मोहान विधानसभा, पुरवा और उन्नाव सदर का विधानसभा क्षेत्र पड़ेगा। मार्ग में आंशिक बदलाव हुआ तो भगवंतनगर विधानसभा क्षेत्र के कुछ गांव भी मार्ग में आएंगे, मगर यह अभी सिर्फ संभावित है। यात्रा के समन्वय का जिम्मा जनेश्वर मिश्र लोहिया के लोग ट्रस्ट के सदस्य सचिव एसआरएस यादव को सौंपा गया है। रथ यात्रा के साथ करीब तीन हजार गाडिय़ों का काफिला साथ रहने की संभावना है। यह संख्या बढ़ भी सकती है।
मंत्री राजेन्द्र चौधरी का कहना है कि यात्रा के जरिये अखिलेश मतदाताओं से दूसरी बार समर्थन मांगेंगे। लखनऊ से उन्नाव तक तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा चुका है। यात्रा में हर वर्ग के लोग शामिल होंगे। जनता मानती है कि बेदाग छवि का कर्मठ मुख्यमंत्री ही उनका सच्चा हमदर्द है। जनता की बुनियादी समस्याओं का समाधान समाजवादी सिद्धांतों पर चलकर हो सकता है। सीएम अखिलेश यादव की रथ यात्रा के दौरान मंत्री अरविंद सिंह गोप, मनोज पाण्डेय, कमाल अख्तर, शाहिद मंजूर, रामगोविंद चौधरी, बलराम यादव भी मौजूद रहेंगे
रजत जयंती में ताकत दिखाएंगे अखिलेश
पांच नवंबर को सपा की स्थापना के 25 वर्ष पूरे होने पर जनेश्वर मिश्र पार्क में रजत जयंती कार्यक्रम है। इसमें समाजवादी पार्टी की प्रदेश इकाई के अलावा मुख्यमंत्री अखिलेश यादव भी पूरी ताकत दिखाएंगे। बुधवार को रथ यात्रा की तैयारियों की लिए युवा ब्रिगेड के साथ बैठक के दौरान अखिलेश ने कार्यकर्ताओं से कहा कि दोनों कार्यक्रम सफल बनाने हैं। जो कार्यकर्ता लखनऊ पहुंच गये हैं, उनके पांच नवंबर तक लखनऊ में रहने का इंतजाम किया जाए।

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s