बसपा को छोड़कर सभी दलों का चुनाव प्रचार लगभग ठप्प…

​★कांग्रेस, सपा में टिकट फाईनल न होने से नेताओं में छायी मायूशी

★भाजपा टिकट पाने हेतु मारामारी तीन दर्जन से ज्यादा दावेदार मैदान में

कालपी (जालौन) : कालपी विधानसभा क्षेत्र में बसपा को छोड़कर अन्य सभी दलों की राजनैतिक गतिविधियां लगभग ठप्प पड़ी होने से संबंधित दलों के कार्यकर्ताओं में निराशा बढ़ती जा रही है। वर्तमान में कालपी विधानसभा क्षेत्र से बहुजन समाज पार्टी का टिकट पूर्व विधायक छोटे सिंह चैहान को मिलने से केवल वही पूरे क्षेत्र में तूफानी गति से चुनाव प्रचार करने में जुटे होने के कारण बसपा कार्यकताओं में जोश बढ़ता जा रहा है। बसपा प्रत्याशी छोटे सिंह चैहान का पूरे विधानसभा क्षेत्र में प्रत्येक गांव में अपना खुद का जनाधार बनाये हुये है इसके बावजूद उन्होने पुनः बहिन जी का आर्शीवाद लेकर प्रत्येक मतदाता से सम्पर्क तथा उनकी समस्याओं का निराकरण करते हुये अपने पक्ष में मतदाता तैयार करने में सफलता प्राप्त करते जा रहे है।
बसपा प्रत्याशी के जोरदार जनसम्पर्क अभियान से भाजपा खेमे में बेचैनी बढ़ती जा रही है क्योकि भाजपा का टिकट पाने हेतु लगभग 40 प्रत्याशी पूरी ताकत के साथ जोर आजमाईश कर रहे है। किसको टिकट मिलता है यह अभी संदेह के घेरे में है वैसे सब से ज्यादा चर्चा प्रो. रविकान्त द्विवेदी, नरेन्द्र जादौन, संजय त्रिपाठी खेमे के कार्यकर्ताओं में यह चर्चा है कि इन्हीं तीन में किसी का टिकट तय हो सकता है जबकि श्रीमती उर्विजा दीक्षित, राघव अग्निहोत्री, बाबा बालकदास पाल, संतराम सेंगर, योगेश द्विवेदी जैसे वरिष्ठ नेतागण टिकट की लाईन मे है और उनके राजनैतिक आकाओं ने अश्वासन भी दे रक्खा है कि चिन्ता न करो तुमे ही चुनाव लड़ना है लेकिन ब्राहमण बाहुल विधानसभा होने के कारण इस बात की ज्यादा उम्मीद है कि ब्रामण में ही टिकट मिलेगा। क्योंकि ठाकुर समुदाय का वोट तो काफी है लेकिन उनका वोट बसपा प्रत्याशी छोटेसिंह चैहान तथा कांग्रेस के सम्भावित उम्मीदवार सुरेन्द्र सिंह सरसेला के बीच बढ़ने की संभावना ठाकुर प्रत्याशी के लिये संकट उत्पन्न कर रहा है हालाकि नरेन्द्र जादौन एंव संतराम सेंगर को भाजपा के वरिष्ठ नेता भारत के गृहमंत्री राजनाथ सिंह का पूरा आर्शीवाद है लेकिन अंतिम क्षणों में राजनाथ सिंह की कृपा किस प्रत्याशी पर होती है यह भविष्य बतायेगा। 
वहीं दूसरी और भाजपा के ब्राह्मण प्रत्याशी प्रो. रविकान्त द्विवेदी की दावेदारी सबसे ज्यादा मजबूत बतायी जा रही है। हालांकि यहां से संजय त्रिपाठी को भाजपा के सांसद भानुप्रताप वर्मा का आर्शीवाद लेकर टिकट भी लाईन में लगे लेकिन उन्हें टिकट इस बात की संभावना न के बराबर है। उनके समर्थकों का कहना है कि यदि इस बार विधानसभा चुनाव में टिकट की दावेदारी नहीं करेंगे तो भविष्य में वह राजनैतिक रूप से पिछल जायेंगे। पार्टी में कलराज मिश्र ब्राह्मणों के नेता माने जाते है लेकिन उनकी टिकट बंटवारें में कितनी चलती है यह भी भविष्य के गर्भ में है क्योंकि गृहमंत्री राजनाथ सिंह वर्तमान के उप्र के टिकट वितरण में ज्यादा महत्वपूर्ण भूमिका अदा करेगे। ऐसी सम्भावनायें भाजपा खेमें ज्यादा है। लेकिन वह जनपद की तीन विधानसभा क्षेत्रों में एक विधानसभा से ही किसी क्षत्रिय नेता को टिकट दिलवा सकते है। यदि माधौगढ़ से क्षत्रिय नेता को टिकट मिलता है तो फिर कालपी से ब्राह्मण नेता की दावेदारी पक्की हो जायेगी। या फिर पार्टी में पिछड़े वर्ग के नेता को भी टिकट थमा सकती है। इस बात को लेकर भी पार्टी में तैयारियां चल रही है। कुल मिलाकर भाजपा हाईकमान इस बार जिताऊ चेहरों पर ही सबसे ज्यादा दांव लगायेगी।
कांग्रेस पार्टी की ओर से वर्तमान विधायक श्रीमती उमाकान्ती सिंह के पति एंव विधायक प्रतिनिधि सुरेन्द्र सरसेला का पुनः टिकट मिलना तय है क्योकि सुरेन्द्र सिंह सरसेला ने चुनाव पुनः लड़ने का पक्का मन बना लेने से उन्होंने विधायक निधि का खजाना ग्रामीण क्षेत्रों के विकास हेतु खोल दिया है। अभी उन्होने ग्राम प्रधानों को बुलाकर सी.सी रोड तथा अन्य विकास के कार्य कराने हेतु विधायक निधि का आवंटन करना शुरु कर दिया है उन्होने शासन से मिलने वाले आवास की गांव-गांव वांटना शुरु कर दिया है। ठाकुर समुदाय में अपना व्यापक वर्चस्व रखने वाले सुरेन्द्र सिंह सरसेला भी अपना जनाधार बरकरार रखने हेतु एडी चोटी का जोर लगा रहे है तथा अपना जन सम्पर्क जारी रखे है।
हालांकि कभी-कभी यह भी खबर कांग्रेस सूत्रों से आ जाती है कि पूर्व विधायक विनोद चतुर्वेदी भी कालपी विधानसभा से अपना भाग्य अजमा सकते है हालांकि उनकी राजनीति गतिविधियां इस क्षेंत्र में कम है लेकिन ब्राह्मण बाहुल्य विधानसभा होने के नाते उनकी जीभ में भी पानी आने लगा है।  समाजवादी पार्टी की ओर से अभी कोई प्रत्याशी घोषित न होने से इस दल के कार्यकर्ताओं में निराशा व्याप्त है क्योकि 4-5 माह पूर्व सपा ने नन्नू राजा को अपना प्रत्याशी घोषित किया था। उन्होने चुनाव प्रचार भी शुरू कर दिया था। लेकिन जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव में उनकी भूमिका संदिग्ध हो जाने के कारण उन्हे पार्टी से ही निकाल दिया गया है इस लिये कालपी विधानसभा से सपा का अभी तक कोई प्रत्याशी तय नही हो पा रहा है। सपा से श्रीराम पाल, डा. अरुण मेहरोत्रा भी टिकट मांग रहे है दोनों प्रत्याशियों ने अपने-अपने बायोडाटा उप्र के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव तथा प्रदेश सपा अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव को सौंप कर अपना दावा ठोंक दिया है। समाजवादी पार्टी अभी अजमंजस में है कि पार्टी से निलंबित नन्नू राजा को ही उम्मीवार बनाया जावे या फिर किसी नये प्रत्याशी को खोजा जावे। अभी सपा में खीचतान जारी है क्योंकि नन्नू राजा को अभी भी विश्वास है कि पार्टी उनका निलंबन वापिस करके पुनः चुनाव लड़ायेगी, लेकिन सपा कार्यकर्ताओं में बड़े पैमाने पर निराशा व्याप्त है क्योकि सपा के कोई राजनैतिक कार्यक्रम नही हो रहे है। कुल मिलाकार कालपी विधानसभा में बसपा को छोड़ दे तो राजनैतिक गतिविधियां लगभग ठप्प है। कार्यकर्ताओं का यह मनाना है कि पार्टी हाईकमान को चाहिये जल्दी टिकट फाईनल करदे जिससे कार्यकर्ता सक्रिय हो जाये। वर्तमान में कालपी विधानसभा क्षेत्र की समस्याओं के निराकरण हेतु कोई भी नेता आगे नही आ रहा है। सभी नेता गण नये नोट पाने के लिये बैंकों में दायें-बायें से दस्तक दे रहे है तथा यह कहते सुना जा रहा है कि जब पैसा नही होगा, तो चुनाव प्रचार कैसे होगा तथा कायकर्ता बिना धन के कैसे जुटेगा।
★भाजपा सहयोगी पार्टी के लिए भी छोड़ सकती कालपी सीट…

जोरशोर से विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुटी भारतीय जनता पार्टी प्रदेश के विधानसभा चुनाव में कुछ सीटें अपने सहयोगी दलों के लिये छोड़ेंगी इस बात के संकेत भी मिलने शुरू हो गये हैं। जिसमें जनपद की कालपी विधानसभा सीट भी पार्टी अपने सहयोगी उपेंद्र कुशवाहा की पार्टी की झोली में डाल सकती है। इसके लिये केंद्रीय मंत्री उपेन्द्र कुशवाहा ने अपने पार्टी नेताओं को भी पिछले दिनों झांसी में आयोजित रैली में मंत्रणा कर चुनावी तैयारियों में जुटने के निर्देश दिये गये थे। अब जैसे ही इस बात की जानकारी भाजपा के ऐसे नेताओं को पता चली तो कालपी विधानसभा क्षेत्र से अपनी दावेदारी पक्की मानकर चल रहे हैं वह बैचेन नजर आने लगे हैं। फिलहाल तो अभी विधानसभा चुनाव दूर है तब तक चुनावी समीकरण क्या होते है तभी सही तस्वीर उभरकर सामने आयेगी।

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s