सरकारी और धार्मिक स्थलों का इस्तेमाल चुनाव प्रचार में कतई न करें-एसडीएम …

★बोले अधिकारी, अराजकता से सख्ती से निपटा जायेगा
★टीयूपी 100 को लेकर भी लोगों को दी जानकारी

कोंच,जालौन :- दो-चार दिन में विधानसभा चुनाव की घोषणा की संभावना के दृष्टिïगत प्रशासन ने होमवर्क शुरू कर दिया है। आज कोतवाली में इलाके के जिम्मेदार लोगों के साथ बैइक करके प्रशासन में बैठे अधिकारियों ने कहा कि चुनाव राष्ट्रीय कार्यक्रम है और इसमें आम जनता भी अपने स्तर से सहयोग करे ताकि चुनाव पारदर्शितापूर्ण ढंग से निष्पक्ष और शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न कराये जा सकें। एसडीएम मोईन उल इस्लाम ने कहा कि यद्यपि अभी आचार संहिता नहीं लागू हुई हे लेकिन हमें और आपको मिल कर अभी से यह सुनिश्चित कर लेना है कि चुनाव दौरान क्या करना है और क्या नहीं करना है। सीओ एके शुक्ल और कोतवाल देवेन्द्रकुमार द्विवेदी ने यूपी 100 के बारे में ग्राम प्रधानों सहित जन सामान्य को विस्तार से जानकारी देते हुये विपरीत समय में इस सुविधा का लाभ लेने के लिये कहा।
बैठक की अध्यक्षता करते हुये एसडीएम ने कहा कि यह बात भली भांति समझ लेनी है कि सरकारी भवनों पर कोई भी प्रत्याशी या उनके समर्थक किसी भी प्रकार का प्रचार नहीं करेंगे, इसी के साथ धार्मिक स्थलों का प्रयोग भी चुनाव प्रचार के लिये करना गैरकानूनी और आचार संहिता का उल्लंघन माना जायेगा जिसके लिये संबंधित व्यक्ति के खिलाफ सम्यक धाराओं में एफआईआर दर्ज कराई जायेगी। उन्होंने कहा कि आचार संहिता लागू होने के चौबीस घंटे के भीतर शहर या गांव में लगे सभी प्रकार के पोस्टर, बैनर, होर्डिंग्स या फ्लैक्स आदि हट जाने चाहिये, अन्यथा की स्थिति में प्रशासन इन्हें हटवा देगा और खर्च प्रत्याशी के चुनावी खर्च में डाल दिया जायेगा। उन्होंने यह भी चेतावनी दी वॉल राइटिंग या वॉल पेंटिग किसी भी सूरत में न तो सरकारी और न ही प्राइवेट भवनों पर की जा सकेगी। ग्राम प्रधानों की इसमें बड़ी जिम्मेदारी है, वे गांव में यह देखेंगे कि ऐसा कोई कार्य न हो जिसमें सांम्प्रदायिक सद्भाव प्रभावित होने की आशंका या जातिगत बैमनस्यता पैदा होने की संभावना हो, ऐसी किसी भी स्थिति में प्रशासन और पुलिस को तत्काल सूचित करें। चुनाव दौरान वोटों को किसी भी प्रकार का लालच देकर प्रभावित करना या उन्हें दबाव में लेकर वोट डालने से मना करने बालों के खिलाफ भी कड़ी कार्यवाही अमल में लाई जायेगी। एसडीएम ने प्रधानों को खासतौर पर इंगित करते हुये कहा कि बूथों पर सात तरह की सुविधायें निर्वाचन आयोग ने अपेक्षित मानी हैं जिन्हें लेकर बूथों का निरीक्षण कर लें और कोई कमी हो तो प्रशासन को अवगत करायें। 
नागरिकों ने भी भरोसा दिया कि वे जिम्मेदार भारतीय होने का फर्ज अदा करने में पूरी तरह सन्नद्घ रहेंगे। यूपी 100 को लेकर भी सीओ और कोतवाल ने नागरिकों को जरूरी जानकारी दी और इस सुविधा का लाभ लेने का आह्वान किया। उन्होंने किसी भी प्रकार की समस्या चाहे वह कितनी ही छोटी क्यों न हो, यूपी 100 को बताने का आह्वान किया। इस दौरान पालिका चेयरपर्सन प्रतिनिधि विज्ञान विशारद सीरौठिया, क्रय विक्रय समिति के अध्यक्ष हरिश्चंद्र तिवारी, हाजी रहम इलाही कुरैशी, काजी बशीरउद्दीन, सांसद प्रतिनिधि अनुरुद्घ मिश्रा, कढोरेलाल यादव, सरनामसिंह यादव, अजय रावत, बादामसिंह कुशवाहा, संजय सोनी, महावीर यादव, राघवेन्द्र तिवारी, शकील मकरानी, विनोदसिंह गुर्जर, शैलेष सोनी, वीरेन्द्र बेहरे, अशोक अग्निहोत्री, अरविंदकुमार पनयारा, अंशू पडऱी, गुलाबसिंह सिमिरिया, राजेन्द्रसिंह कुंवरपुरा, दीनदयाल चमेंड़, माताप्रसाद कैथी आदि सैकड़ा भर लोग मौजूद रहे।

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s