छत्तीसगढ़ के सुकमा में 24 CRPF जवान शहीद, 300 नक्सलियों ने किया हमला

सुकमा,छत्तीसगढ़ : यहां बुरकापाल और चिंतागुफा के बीच नक्सलियों ने सीआरपीएफ जवानों पर हमला किया। न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक हमले में 24 जवान शहीद हो गए। घायल जवान शेर मोहम्मद ने बताया, “नक्सलियों की तादाद करीब 300 थी। उन्होंने पहले गांववालों को हमारी लोकेशन का पता करने के लिए भेजा और फिर हमला बोला।” बता दें कि ये इलाका दोरनापाल से 38 किमी दूर है। हमले के बाद छत्तीसगढ़ के सीएम रमन सिंह ने अपना दिल्ली दौरा बीच में ही रोक दिया है और रायपुर के लिए रवाना हो गए हैं। उन्होंने इमरजेंसी मीटिंग बुलाई है। घायलों को हेलिकॉप्टर से रायपुर भेजा गया

– बुरकापाल में सड़क का काम लंबे अरसे से बंद था, लेकिन सीआरपीएफ की सिक्युरिटी में इसका काम फिर शुरू हुआ।
– सोमवार को सीआरपीएफ के जवान जब खाना खा रहे थे, उस वक्त नक्सलियों ने घात लगाकर हमला कर दिया। जिसमें 24 जवान शहीद हो गए। गंभीर रूप से घायल जवानों को हेलिकॉप्टर के जरिए रायपुर भेजा गया है।

– घायलों में एएसआई आरपी हेमबरम, एचसी राम मेहर, सिटी स्वरूप कुमार, सिटी मोहिंदर सिंह, सीटी जितेंद्र कुमार की हालत ज्यादा सीरियस है। सीटी शेर मोहम्मद, सिटी लाटो ओरोन की हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है।

मुठभेड़ में नक्सली भी मारे गए

-घायल शेर मोहम्मद ने न्यूज एजेंसी से बताया, “सीआरपीएफ के जवानों की संख्या 150 थी और हमले के दौरान जवाबी फायरिंग भी की गई। जिसमें कई नक्सली मारे गए हैें। मैंने 3-4 नक्सलियों को सीने पर गोली मारी।”

– नक्सलियों ने सड़क का काम बंद करा दिया था। इसके बाद सीआरपीएफ ने रोड ओपनिंग पार्टी भेजी थी। नक्सलियों ने जवानों के हथियार भी लूट लिए।

हमले पर राजनाथ ने अफसोस जताया

– राजनाथ सिंह ने ट्वीट किया, “सुकमा में सीआरपीएफ जवानों के शहीद होने पर गहरा अफसोस है। शहीदों को मेरी श्रद्धांजलि और उनके परिवारों के लिए मैं संवेदना जाहिर करता हूं। मैंने इस मसले पर हंसराज अहीर से बात की है। वो हालात का जायजा लेने छत्तीसगढ़ जा रहे हैं।”

8 बजे होगी इमरजेंसी मीटिंग

– नीति आयोग की मीटिंग में हिस्सा लेने दिल्ली गए रमन सिंह ने हमले के बाद दौरा बीच में ही खत्म कर दिया। वो तुरंत रायपुर के लिए रवाना हुए। रमन सिंह ने आज 8 बजे एक इमरजेंसी मीटिंग बुलाई है।
– इस बीच बस्तर के आईजी विवेकानंद सिन्हा और डीआईजी सुंदरराज सुकमा के लिए रवाना हो गए हैं। सीआरपीएफ की 74 वीं बटालियन के सभी जवानों को एंटी-नक्सल ऑपरेशन में तैनात कर दिया गया है। इसके अलावा आसपास के कैम्पों से भी मदद सुकमा पहुंच रही है।

मार्च में भी किया था हमला, 12 जवान शहीद हुए थे
– सुकमा में 11 मार्च को भी नक्सलियों ने सीआरपीएफ जवानों पर हमला किया था। इस हमले में 12 जवान शहीद हो गए थे। नक्सली जवानों के हथियार भी लूट ले गए। नक्सलियों ने सुबह 9:15 AM बजे तब हमला बोला, जब CRPF के 219th बटालियन के जवान रोड ओपनिंग टास्क के लिए जा रहे थे। आईजी सुंदर राज ने बताया कि सिक्युरिटी पर्सनल्स इलाके में रोड ओपनिंग एक्सरसाइज कर रहे थे, उसी वक्त माओवादियों ने उन पर फायरिंग की। बता दें कि ये वही इलाका है, जहां 2010 में नक्सली हमले में 76 जवान शहीद हो गए थे।

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s