दुकानदार ने उरई कोतवाल पर लगाया रंगदारी मांगने का आरोप …

◆ एसपी ने सीओ सिटी को  सौंपी मामले की जांच 
◆ पीडित ने एसपी को सौंपा शिकायती पत्र, मुख्यमंत्री, डीजीपी व आईजी को भी भेजी शिकायत
◆ मुफ्त में कोल्डडिंक न पिलाने पर कोतवाल ने दुकानदार को दी धमकी 

उरई/जालौन । खाउ-कमाउ नीति पर चल रहे उरई कोतवाल एक बार फिर से विवादों में आ गए हैं। इस बार उन पर दुकानदार से रंगदारी मांगने का आरोप लगा है। उरई के टाउन हॉल पर दुकान किए एक दुकानदार ने मंगलवार को एसपी स्वप्निल ममगाई को सौंपे शिकायती पत्र में आरोप लगाया कि उरई कोतवाल  संजय कुमार गुप्ता उसकी दुकान पर आए और अपने हमराहियों के साथ कोल्डडिंक पीने लगे। कोल्डडिंक के रुपए मांगने पर वह उखड गए और भद्दी-भद्दी गालियां देनी शुरू कर दीं। विरोध करने पर उन्हेांने भांग के ठेकों की तरह दुकानदार से भी हर महीने रंगदारी भेजने को कहा और ऐसा न करने पर फर्जी मुकदमे में फंसाने की धमकी भी दी। पीडित ने मुख्यमंत्री, डीजीपी व आईजी जोन को भी शिकायती पत्र भेजकर  न्याय की मांग की है। शिकायत के बाद एसपी ने मामले की जांच सीओ सिटी को सौंप दी है और मामला सही पाए जाने पर कार्रवाई का आश्वासन दिया है।  प्रदेश की योगी सरकार भले ही खाकी की छवि सुधारने के तमाम प्रयास कर रही हो और लगातार पुलिस को ईमानदारी से कार्य करने का पाठ पढाया जा रहा हो, पर उरई कोतवाल पर यह सभी प्रयास बेअसर साबित हो रहे हैं। शहरियों की सुरक्षा से ज्यादा अपनी कमाई पर ध्यान देने वाले उरई  कोतवाल संजय कुमार गुप्ता ने एक ओर नया कारनामा कर डाला है। इस बार उन पर खाकी का रौब दिखाते हुए दुकानदार से रंगदारी मांगने का आरोप लगा है। शहर के मोहल्ला राजेंद्र नगर निवासी रामजी चौरसिया ने मंगलवार को एसपी स्वप्निल ममगाई को दिए शिकायती पत्र में बताया कि वह उरई के टाउन हॉल पर पान-गुटखा की दुकान चलाता है। बीती शनिवार की रात तकरीबन साढे नौ बजे उरई कोतवाल संजय कुमार गुप्ता अपने हमराहियों के साथ उनकी दुकान पर आए तीन कोल्डडिंक लेकर हमराहियों के साथ पीने लगे। इसके  बाद वह  बिना रुपए दिए वहां से जाने लगे। इस पर दुकानदार रामजी चौरसिया ने कोतवाल से रुपए मांगे  तो वह अपना आपा खो बैठे और खुद को शहर कोतवाल बताते हुए खाकी का रौब जमाने लगे। दुकानदार ने बताया कि कोतवाल संजय गुप्ता बोले कि मैं शहर का कोतवाल हूं, तुम्हारी मुझसे रुपए मांगने की हिम्मत कैसे हुई। यही नहीं, कोतवाल साहब का गुस्सा यहीं पर नहीं थमा और उन्होंने यहां तक कह डाला कि जिस तरह से भंाग के ठेकों पर गांजा बिकवाने के लिए उनके पास हर महीने नजराना आता है वैसे ही तुम भी मुझे नजराना भेजना शुरू कर दो, वरना तुम्हें जेल भेज दूंगा। पीडित दुकानदार ने बताया कि तब से लगातार कोतवाली के सिपाही उसकी दुकान पर आ रहे हैं और धमकियां दे रहे हैं। पीडित की तहरीर पर एसपी स्वप्निल ममगाई ने सीओ सिटी अरुण कुमार सिंह से जांच  कराने का  आश्वासन दिया है और मामला सही पाए जाने पर कार्रवाई की बात कही है। वहीं पीडित दुकानदार ने इस मामले में मुख्यमंत्री, डीजीपी और आईजी जोन को भी शिकायती पत्र भेजकर  मामले से अवगत करा दिया है। पीडित दुकानदार रामजी चौरसिया ने कहा कि न्याय न मिलने पर वह आईजी व अन्य उच्च अधिकारियों से गुहार लगाएंगे। वहीं इस बारे में शहर कोतवाल संजय कुमार गुप्ता का कहना है कि शिकायतकर्ता की दुकान पर शराब पिलाए जाने की सूचना मिली थी। इस पर वह दुकानदार को मना करने गए थे।   

◆ दलालों का अड्डा बनी उरई कोतवाली 
उरई/जालौन । दलालों का अड्डा बन चुकी उरई कोतवाली में इन दिनों सभी नियम-कायदे फेल हो चुके हैं। खाउ-कमाउ नीति पर चल रही उरई कोतवाली पुलिस इन दिनों केवल अपनी कमाई पर ध्यान दे रही है। इसके चलते कोतवाली में तमाम दलाल सक्रिय हो गए हैं और इनके माध्यम से ही रोजाना कोतवाली के अंदर ही अपराधियों को कानून के शिकंजे से  बचाने के लिए बोलियां लगती हैं। तैनाती के साथ ही विवादों में रहने वाले शहर कोतवाल संजय कुमार गुप्ता पर महकमे के आला अधिकारी भी मेहरबान नजर आ रहे हैं। यही कारण है कि पूरे जिले में बडे स्तर पर पुलिस महकमे में फेरबदल तो हो गया है, पर उरई कोतवाल की कुर्सी अभी तक सुरक्षित है। मजे की बात तो यह है कि कई भाजपा नेताओं की नाराजगी के बाद भी उरई कोतवाल संजय कुमार गुप्ता अभी तक स्थानांतरण की जद से बाहर हैं।  

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s