राम और कृष्ण जन्म की कथायें सुन भाव विभोर हुये श्रोता


(रिपोर्ट @ पी.डी. रिछारिया)

कोंच/जालौन। यहां सुप्रसिद्घ मुतिया माता मंदिर में जारी श्रीमद्भागवत कथा के दौरान रविवार को कथा व्यास शिवशंकरानंद सरस्वती ने परमात्मा के विभिन्न अवतारों की कथा का वर्णन बड़े ही सुरूचिपूर्ण ढंग से करते हुये श्रोताओं को मुग्ध कर दिया। आज की कथा में रामावतार और कृष्णावतार की कथायें भी उन्होंने सुनाईं। उन्होंने कहा कि जब भी पृथ्वी पर अधर्म बढता है या भक्तों पर संकट आता है, तब परमात्मा अवतार धारण कर पृथ्वी और भक्तों के कष्टों को हरते हैं। गजेन्द्र मोक्ष की कथा सुनाते हुये कहा कि जब प्राणिमात्र के सभी सगे सम्बंधी उसका साथ आड़े समय में छोड़ देते हैं तब ईश्वर ही उनकी मदद के लिये आते हैं।
विद्वान कथा प्रवक्ता ने परमात्मा के समय समय पर लिये गये अवतारों की कथायें सुना कर श्रोताओं को मुग्ध कर दिया। उन्होंने गजेन्द्र मोक्ष की कथा के माध्यम से यह बताने का प्रयास किया कि प्राणिमात्र को केवल परमात्मा पर ही विश्वास करना चाहिये, सांसारिक बंधन तो स्वार्थपूर्ण होते हैं। ग्राह ने जब गजेन्द्र को सरोवर में खींच लिया तो उस समय वहां उपस्थित गजेन्द्र के परिवार के किसी भी सदस्य ने उसकी सहायता नहीं कर पाई तब उसने करूणामय परमात्मा का स्मरण किया और भगवान ने एक पल की भी देर लगाये बिना वहां आकर गजेन्द्र को ग्राह के बंधन से मुक्त कराया। उन्होंने राम अवतार की कथा में बताया कि जब पृथ्वी पर रावण जैसे राक्षसों के अत्याचार ज्यादा बढ गये तो उन्होंने अयोध्या में राजा दशरथ के यहां अवतार लिया। उन्होंने कृष्णावतार की कथा सुनाते हुये उन्होंने कहा कि कंस के बढते अत्याचारों से पृथ्वी कराहने लगी तो परमात्मा ने सोलह कलाओं के साथ मथुरा स्थित कंस के कारागार में देवकी और वसुदेव के यहां अवतार धारण किया। जैसे ही कृष्ण प्राकट्य होता है लोग आनंदित हो उठते हैं, कथा स्थल पर गोले दाग कर उनके आगमन का स्वागत किया गया महिलाओं ने बधाइयां गाईं। धूमधाम के साथ नंदोत्सव मनाया और प्रसाद वितरित किया गया। परीक्षित रामसिंह यादव व उनकी पत्नी कुंजनदेवी ने भागवतजी की आरती उतारी।

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s