माधौगढ़ क्षेत्र में बाल विकास परियोजना में बड़े स्तर पर घपलेबाजी व अवैध वसूली की मिली शिकायत …

सुपरवाइजरों के माध्यम से कराते हैं अवैध वसूली

बाल विकास परियोजना को लम्बा बट्टा लगा रहे सम्बन्धित अधिकारी व कर्मचारी

माधौगढ़/जालौन – बाल विकास परियोजना में सी डी पी ओ  कपिल शर्मा द्वारा सभी सुपरवाजरों द्वारा कराई जा रही अवैध बसूली की बजह से माधौगढ क्षेत्र के दर्जनों आँगन बाड़ी केंद्र अक्सर बंद रहते हैं जिसका जीता जागता उदाहरण बोहरा आँगनवाड़ी केंद्र चार या पाँच दिन मे एक दिन खोला जाता है आँगन बाड़ीकेंद्र जिसमें तैनात आँगनबाड़ी मिथलेश कुमारी व सहायका आशादेवी  हफ्ते में एक दिन माधोगढ से आकर कागजी कार्रवाई करती वहीं आशादेवी सहायका भी हिगुटा गाँव से एक दिन आकर खानापूर्ति करती । और दो चार बच्चों को महिने मे एक वार पंजीरी बाटती बाँकी न तो कभी पुष्टाहार कभी वितरण होता और न ही कभी आँगनबाड़ी केंद्र नहीं खोला जाता जिसकी शिकायत ग्रामीणो ने कई वार उच्चअधिकारियों से की लेकिन अभी तक कोई कार्यवाही नही हई  और सी डी पी ओ महोदय का हफ्ते में शनिवार को ही अधिकांश आना होता है वैसे तो कार्यालय को सुपरवाइजर मालती चलाती है जोकि आंगनवाड़ी व सहायिका से साड़ी के 100 रूपये , व बोरी के 800 रूपये मागती है 10 वोरी के 400 रूपये ले रही हौसला पोषण योजना के प्रत्येक बिल पर 100 रूपये खाली बोरी के पैसे आड़िट के नाम से 300 रूपये हर 6 माह मे लेती खाना के फरवरी माह के 950 मे 450 रूपये लिए 50% मागती और दी के पैकेट कही नही वाटे गये और अपने घर ले गई दूध के चार पैकेट मे 2 पैकेट ले लिए गये ।

e4c96a7a-f7ca-4cce-a60e-c01526a26be9

कुपोषित बच्चों को गाँव से अस्पताल तक आने जाने व अस्पताल मे 3 दिन रुकने का कोई खर्च नही दिया जाता और सुपरबाइजरो का आँगन बाड़ी से कहना है कि अपने पैसे से लेकर आओ । यह माधोगढ में तैनात सभी सुपरबाइजरो का आँगनवाड़ी से कहना है और पुष्टाहार देते समय पैसे वसूले जाते ।इस लिए आँगन बाड़ी केंद्र नही खोलती हैं और पैसे वसूली की बजह पुष्टाहार का बितरण समय से नहीं किया जाता आँगन बाड़ी केंद्र हैदलपुरा रामहेतपुरा, बिजदुवा मे तीनों केंद्र सूपा नुनायचा बोहरा गालमपुर सोपता धमॅपुरातोर  सुरपतिपुरा कुवरपुरा  बैनीपुरा अकबर पुरा इत्यादि  दजॅनो केंद्र हमेशा ही बंद रहते जिसकी जानकारी सी ड़ी पी ओ से माँगी तो वह फोन रिसीब ही नही करते और अपना मुबाइल व्यस्त कर लेते और सुपरबाइजर से जानकारी चाही तो उनका हमेशा ही कहना होता कि मैं अभी फोन पर बात करती हूँ और कभी भी सुपरबाइजर द्वारा कोई निरीक्षण नहीं किया जाता बल्कि 27 तारीख से 31तारीख तक वसूली अभियान चलाया जाता है जिसकी जानकारी नाम न छापने पर दी गई । जिसकी  शिकायत उप जिलाअधिकारी व उच्चअधिकारियों से जाच कर कार्यवाही की माँग की गई।

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s