अवैध टोल बसूली के खिलाफ खोला मोर्चा, आटा टोल प्लाजा बंद कराने की मांग … 

◆ बिना सुविधा के बसूला जा रहे अवैध टोल टैक्स  
◆ टोल प्लाजा चालू कराने के लिए केंद्र सरकार को भी किया गया भ्रमित 


 उरई/जालौन । केंद्र सरकार को  भ्रमित करते हुए एनएचएआई के अधिकारियों द्वारा आटा के समीप उकासा हाईवे पर शुरू किए गए अवैध टोल प्लाजा के खिलाफ समाजसेवी संगठनों ने मोर्चा खोल दिया है। इस मामले में मां वनखंडी देवी शक्तिपीठ संगठन ने बुधवार को राष्टपति को संबोधित ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा है और इस अवैध टोल  प्लाजा को बंद कराने की मांग की है।  जिलाधिकारी नरेंद्र शंकर पांडेय को ज्ञापन सौंपते हुए मां वनखंडी देवी शक्तिपीठ के सदस्यों ने कहा कि राष्टीय राजमार्ग एनएच 27 पर उरई कालपी के बीच उकासा आटा के समीप एनएचएआई का टोल प्लाजा संचालित किया जा रहा है जो कि नियम के विपरीत है। नियमानुसार जब तक सडक निर्माण का कार्य पूरा नहीं हो जाता तब तक टोल नहंी बसूला जा सकता है। क्योंकि शुल्क सुविधा के लिए है। जब सुविधा ही उपलब्ध नहीं कराई जा रही है तो फिर टोल कैसे बसूला जा सकता है? इस मामले में केंद्र सरकार को भी झूठा शपथ पत्र देकर भ्रमित करने का काम किया गया है। एनपएचएआई के द्वारा केंद्र सरकार को शत प्रतिशत सडक मिर्नाण पूरा होने का झूठा शपथ पत्र देकर टोल बसूली शुरू कर दी गई और अधिसूचना जनवरी 2013 में करा ली गई। जबकि यहां पर शत प्रतिशत सडक पूण्र नहीं हुई है। कस्बा कालपी में इसी परियोजना की सडक बनाने के एिल एनएचएआई द्वारा भूमि अधिग्रहण की कार्यवाही के लिए धारा 3ए के प्रस्ताव की अधिसूचना की गई। नतीजा यह है कि आज भी कस्बा कालपी में सडक पूर्ण करने के लिए कानूनी रूप से एनएचएआइ्र के पास भूमि उपलब्ध ही नहीं है। इन तथ्यों के आधार पर आज भी कानूनन टोल की बसूली नहीं की जा सकती है। लेकिन आज भी टोल नाका पर शुल्क लिया जा रहा है। एनएचएआई के अधिकारियों की भ्रामक, अवैधानिक, नपीतियों व प्रक्रिया के कारण कस्बा कालपी में करीब ढाई किलोमीटर से अधिक अधूरा पडा राजमार्ग व उससे उठती हुई धूल आसपास के अइलाकों व यहां से गुजरने वाले लोगों को दुर्घटनाओं का न्यौता दे रही है। संस्था के संचालक महंत जमुनादास ने मांग की है कि जब तक यह मार्ग पूरी तरह निर्मित नहंी हो जाता तब तक के लिए टोल बसूली रोकी जाए।

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s