उरई के नए कोतवाल ने पदभार सम्भालते ही अपने अधीनस्थों को सिखाये आतंकवाद से निपटने के गुण …

◆ अधिनस्थों को क्राइम कंट्रोल की घुट्टी पिलाते कोतवाल देवेन्द्र कुमार द्विवेदी 

◆ कोतवाल ने दरोगा व सिपाहियों को अनुशासित रहने की घुट्टी पिलाई साथ ही आतंकबाद से निपटने के गुर सिखायें

उरई (जालौन) । नवान्तुक कोतवाल ने देवेन्द्रकुमार द्विवेदी ने आज रविवार को कोतवाली में अधीनस्थ चौकीइंचार्ज, दरोगा के अलावा सिपाहियों की भी क्लास लगाई और अपराधों पर रोकथाम के लिये आवश्यक दिशा निर्देश दिये। एंव आतंकवाद से निपटने के गुर सिखायें उन्होंने बीट सिपाहियों को पुलिस के तौर तरीकों के बारे में जानकारी देते हुये कहा कि अनुशासित ढंग से पुलिसिंग का काम करना है और अपनी अपनी बीट की आद्यंत जानकारियां बीट बुक में दर्ज करनी हैं ताकि पूरे कोतवाली क्षेत्र की एक एक गतिविधि पर पुलिस की चैकन्नी नजरें चैबीसों घंटे बनी रहें।


पुलिस के उच्चाधिकारी निजाम बदलने के साथ ही पुलिसिंग के तौर तरीकों में भी आमूलचूल बदलाव के लिये उतावले दिख रहे हैं। उच्च अधिकारियों ने अपनेअधीनस्थों से जो अपेक्षायें जताईं उन्हें लेकर रविवार को नवान्तुक कोतवाल देवेन्द्रकुमार द्विवेदी ने चार्ज ग्रहण करने के तीसरे दिन ही अपने दफ्तर में थानेदारों व पुलिस जवानों की क्लास लगाई और कहा कि पुलिस जवानों का सबसे पहला काम है अनुशासित ढंग से रह कर अपना काम करना और उम्दा से उम्दा रिजल्ट हासिल करना। उन्होंने कहा कि अपने दिये गये काम के प्रति पूरी तरह से सचेष्ट रहें, ऐसा करके तथा अपराधियों पर पैनी नजर रख कर वे अपराधों पर कारगर ढंग से नियंत्रण रख सकने में मददगार साबित हो सकेंगे। उन्होंने सिपाहियों को बीट के महत्व के बारे बताते हुये उन्हें बताया कि किस प्रकार बीट की सूचनायें इकट्ठी करना है और उनको बीट बुक में दर्ज करना है। उन्होंने कहा कि परेशान नागरिक जब पुलिस के पास अपनी बड़ी उम्मीदें लेकर आता है और उसे न्याय नहीं मिल पाता है तो उस व्यक्ति की पुलिस के प्रति क्या सोच बनती होगी इसे आसानी से समझा जा सकता है, अतरू फरियादी के साथ अच्छा व्यवहार करना और उसकी समस्या का समाधान करना पुलिस का दायित्व ही नहीं धर्म भी है। उन्होंने यह भी कहा कि जनता और पुलिस के बीच बढिया तालमेल बिठा कर ही अपराधों पर नियंत्रण किया जा सकता है। उन्होंने थानेदारों से अपेक्षा जताई कि उनके पास जो भी विवेचनायें लंबित हैं उनको शीघ्र निपटाने का प्रयास करें। इस दौरान वरिष्ठ उपनिरीक्षक वीरेन्द्र सिंह उपनिरीक्षक सतीश कुमार, उपनिरीक्षक अशोक पटेल, उपनिरीक्षक अरविन्द्र कुमार, उपनिरीक्षक सलमान अली, उपनिरीक्षक उपदेश कुमार, उपनिरीक्षक रामनरेश यादव, उपनिरीक्षक मुकेश कुमार, सिपाही अविनीश चन्द्र, सिपाही जीत सिंह,सिपाही मनीष, सिपाही मानवेन्द्र, सिपाही आकाश, सिपाही ललित, सिपाही मयंक आदि भारी संख्या मे पुलिस के सिपाहीं कोतवाली मे मौजूद रहे ।

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s