​किसान समस्या का निकले हल,किसानों ने आप की किसान बचाओ यात्रा को भेंट किया हल …

◆ किसानों की एक मात्र आस आम आदमी पार्टी

【विनोद जैन @ “खबर आपकी”】
छतरपुर : किसानों की 10 सूत्रीय मांगो को लेकर प्रदेश के सभी 51 जिलों से होकर गुजरने वाली  आमआदमी पार्टी की किसान बचाओ यात्रा अपने 23 वें दिन पन्ना से कटनी जाते समय छतरपुर जिले के जैतपुर पहुँची जहाँ कमलेश राय, निरंजन तिलक आदि किसानों ने आप के प्रदेश संयोजक व संगठन सचिव श्री अमित भटनागर को हल भेंट किया किसानों का कहा कि कहने को तो बुंदेलखंड से सबसे ताकतवर 6 मंत्री प्रदेश सरकार में है, फिर भी सबसे ज्यादा संकट बुंदेलखंड के किसानों पर है, किसानों ने कहा कि अब उनकी एकमात्र आस आम आदमी पार्टी है, आम आदमी पार्टी शोषण के खिलाफ संघर्ष में उनका साथ देगी, किसानों की समस्याओं का हल निकलेगा इस विश्वास के साथ हम किसान इस यात्रा को हल सौप रहे है, साथ ही किसानों ने इस भीषण गर्मी में आप आदमी पार्टी की 42 दिवसीय किसान यात्रा की खूब तारीफ भी की।  दौरान छतरपुर से सागर जिले में पहुँची जहाँ शाहगढ़ बसस्टैंड व्  मकरोनिया किसान मण्डी में किसान सभा का आयोजन किया गया जिसमें बड़ी संख्या में किसानों ने शिकरत की,

किसानों को संबोधित करते हुए शिवराज की भाजपा सरकार को किसानों के प्रति सबसे उदासीन सरकार करार देते हुए प्रदेश संयोजक श्री आलोक अग्रवाल ने कहा कि आज प्रदेश का किसान दयनीय स्थिति में है। प्रदेश के किसानों को साल दर साल किसानी में नुकसान होता चला जा रहा है। प्रदेश सरकार की और से न उसे फसल का उचित मूल्य मिल रहा है न ही फसल ख़राब होने पर मुआवजा । किसान का कर्ज़ इस कदर बढ़ गया है कि प्रदेश में रोजाना 5 किसान आत्महत्या कर रहे है। और हमारे मुख्यमंत्री शिवराज जी है कि कृषि कर्मण अवार्ड लेने में व्यस्त है, आज प्रदेश के किसान पर लगभग 20 हज़ार करोड़ का कर्ज है। आज किसान को मदद की जरूरत है, इसलिए आम आदमी पार्टी किसान बचाओ यात्रा निकल रही है। प्रदेश संगठन सचिव श्री अमित भटनागर ने कहा कि देश के सबसे शोषित और पीड़ित क्षे्त्र में बुंदेलखंड का नाम आता है, यहाँ अबैध उत्खनन चरम पर है, सरकार के संरक्षण में जल जंगल जमीन की लूट धड़ल्ले से हो रही है, किसान व् किसानी पर संकट बढ़ता जा रहा है।

किसान बताओ यात्रा के उद्देश्य पर प्रकाश डालते हुए महिला शक्ति की प्रदेश सहसंयोजक लक्ष्मी चौहान व् प्रदेश युथ संयोजक श्री निशांत गंगवानी ने बताया कि यात्रा के माध्यम से आम आदमी पार्टी की मांग है कि किसानों का कर्जा माफ़ हो, उसके फसलों के दाम बढ़ाये जाएँ और इस हेतु स्वामीनाथन रिपोर्ट की तर्ज पर “न्यूनतम मूल्य सुरक्षा कानून” बने साथ ही किसानों की फसल ख़राब होने पर 20,000 रु एकड़ का मुआवजा मिले व् 18 घंटे बिजली मिले।

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s