दुःखद कार्य प्रणाली ! कबरई के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में गर्भवती महिलाओं का जमीन पर लिटाकर हो रहा इलाज …


【सन्दीप गुप्ता@खबर आपकी,महोबा ब्यूरो】

कबरई/महोबा : जिले की स्वास्थ्य व्यवस्था पटरी से उतर गयी, लाख कोशिशों के बाद भी व्यवस्था पटरी पर लौटने का नाम नहीं ले रही है। जिसके चलते गरीब मरीजों का विश्वास शासकीय चिकित्सालयों से टूटने लगा है। रोजाना यहां गरीब मरीज बेहद उम्मीदों के साथ उपचार के लिये पहुंचते है, लेकिन उनके हाथ निराशा और मायूसी ही लगती है। यह तस्वीर कबरई के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र की है, यहां एक गर्भवती महिला पहुंची थी, लेकिन उपचार के नाम पर उसे वही फर्स पर लिटा दिया गया। जनपद में स्वास्थ्य केन्द्रों की कमी नहीं है, कस्बो से लेकर नगरों तक स्वास्थ्य केन्द्र स्थापित है। जरूरत के हिसाब से इनके दर्जो में बढ़ोत्तरी कर रखी गयी है। मांग के अनुसार कई प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र चल रहे है, कही सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र चल रहे है, और जिला मुख्यालय में जिला अस्पताल चल रहा है। इसके अलावा एएनएम सेन्टर भी चल रहे है, इतना सब कुछ होने के बाद भी मरीजों को समुचित उपचार का लाभ यहां से नहीं मिल पा रहा है। कबरई के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में एक प्रसूता महिला अपने पति के साथ पहुंची वह दर्द से कराह रही थी, पति ने यहां पहुंचकर स्वास्थ्य केन्द्र की सभी औपचारिकताओं को पूरा किया, इससे पहले कि वह स्वास्थ्य केन्द्र में एडमिट होती वह लापरवाही का शिकार हो गयी, और दर्द से कराह रही प्रसूता महिला समय पर समुचित उपचार न मिलने के कारण वहीं गिर पड़ी। अंधेर की बात यह है कि इतना सब कुछ होने के बाद भी स्वास्थ्य विभाग नहीं जागा और उसने लापरवाही का पूरा प्रदर्शन करते हुये उसका उपचार फर्श पर ही शुरू कर दिया, इसको लेकर पति समेत परिजनों ने नाराजगी व्यक्त की तब जाकर स्वास्थ्य विभाग की नींद जागी।

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s