… जाने क्यों फिर से पारा गर्म हुआ एसडीएम कोंच का …

◆ बढती पेंडेंसी पर फिर नाराजगी जताई एडीएम ने
◆ 31 में 2 फरियादों का मौके पर किया गया निस्तारण

कोंच/जालौन। जुलाई माह के पहले मंगलवार को तहसील सभागार में निपटे तहसील दिवस में कुल 31 फरियादें आईं, इनमें से 2 का मौके पर ही निस्तारण कर दिया गया। एसडीएम सुरेश सोनी ने एक बार फिर उन विभागों के अधिकारियों को जम कर लंबा किया जिनकी पिछली समस्याओं का निस्तारण लंबित पड़ा है। उन्होंने दो टूक कहा कि तहसील दिवस को अधिकारी हल्के में ले रहे हैं जिसके चलते लंबित प्रार्थना पत्रों की संख्या लगातार बढती जा रही है। उन्होंने अबकी दफा अधिकारियों को कड़ी चेतावनी दी कि सप्ताह भर में यदि ये समस्यायें न निपटीं तो संबंधित विभागों के अधिकारियों के खिलाफ शासन को रिपोर्ट की जायेगी। उन्होंने कहा कि प्रार्थना पत्रों का पहले सही से अध्ययन करें और फिर मौके पर जाकर उनका गुणवत्ता पूर्ण निस्तारण करें। 
एसडीएम सुरेश सोनी की अध्यक्षता एवं सीओ नवीनकुमार नायक की मौजूदगी में तहसील दिवस का आयोजन तहसील सभागार में किया गया जिसमें नाली, चकरोड्स, बिजली विभाग, पुलिस विभाग और हैंडपंपों के अलावा अबैध कब्जों की भी तमाम शिकायतें आईं। आज आईं शिकायतों में राजस्व की 13, पुलिस की 5, विकास की 7, नगर पालिका की 3, विद्युत की 1 शिकायत प्राप्त हुईं। गोरा करनपुर निवासी किशोरी पाल ने आवास आवंटन में बरती गई धांधली की शिकायत करते हुये बताया कि उनके गांव में अपात्रों को आवास आवंटित किये गये हैं। गांव की कटोरीदेवी पत्नी कालकाप्रसाद पाल के पास सात बीघे जमीन तथा पक्का मकान है और वह नि:संतान भी है लेकिन सांठगांठ करके उसे न केवल आवास आवंटित कर दिया गया है बल्कि पहली किश्त भी जारी कर दी गई है। इस शिकायत पर एसडीएम ने गंभीरता से संज्ञान लिया है और बिशेष जांच कराने की बात कही है। इस दौरान कोंच कोतवाल सत्यदेव सिंह, एसओ नदीगांव रवीन्द्रकुमार त्रिपाठी, एसओ कैलिया प्रभुनाथ सिंह, वन क्षेत्राधिकारी वीके सिंह, एसडीओ विद्युत कौशलेेेेन्द्र सिंह, अपूर्ति निरीक्षक अखिलेश कुमार आदि मौजूद रहे। 
इन विभागों में पड़ी हैं कुल 29 समस्यायें लंबित..

कोंच। शासन के स्पष्ट निर्देश हैं कि एक सप्ताह में हर हाल में समस्याओं का निराकरण हो जाना चाहिये और यदि किसी समस्या में समय की मांग है तो अधिकतम पखवाड़े भर में उनका निपटारा हो जाना चाहिये लेकिन पिछले तहसील दिवसों की कुल 29 समस्यायें अभी भी लंबित पड़ी हैं जो अधिकारियों के काम काज की पोल खोलने के लिये काफी हैं। जिन विभागों को पेंडेंसी के चलते एसडीएम की फटकार खानी पड़ी है उनमें सबसे ज्यादा सोलह राजस्व से जुड़ी हैं। राजस्व निरीक्षक जगनपुरा की 5, तीतरा की 3, नदीगांव की 3 व पहाडग़ांव की 3, कैलिया की 2, एसएचओ कोंच की 4, बीएसए की 1, पीडब्ल्यूडी की 2, सीडीओ की 1, बीडीओ नदीगांव की 1,नगर पालिका कोंच की 1, जल निगम की 1, बीसीडी सेकंड 1 तथा आबकारी अधिकारी की भी 1 शिकायत लंबित पाई गईं जिन्हें लेकर एसडीएम सुरेश सोनी ने तगड़ी खुराक संबंधित विभागों को दे दी है।

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s