​बंगरा हत्याकांड का आखिरी वांछित भी गिरफ्तार, वारदात मेें प्रयुक्त तमंचा हुआ बरामद …


माधौगढ़ कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक रुद्र कुमार सिंह के नेतृत्व में कार्य कर रही पुलिस टीम ने गत 13 जून को बंगरा में हुई हरिओम पचैरी की गोली मारकर हत्या के वांछित आरोपी शैलेंद्र उर्फ शीलू जाटव को आखिरकार गिरफ्तार कर लिया। जबकि पुलिस के भारी दबाव को देखते हुए इस मामले का एक और नामजद आरोपी राहुल सिंह मंगलवार को अदालत के सामने समर्पण कर चुका है। 

जबकि मुख्य अभियुक्त शिवम और उसका रिश्तेदार अभिषेक उर्फ बेटू पहले ही गिरफ्तार कर लिए गये थे। यह जानकारी देते हुए अपर पुलिस अधीक्षक सुरेंद्र कुमार तिवारी और सीओ नवीन नायक ने बताया कि मंगलवार को गिरफ्तार किये गये शैलेंद्र जाटव से पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त किये गये तमंचे को बरामद कर लिया है। उन्होंने फिर ध्यान दिलाया कि यह हत्या प्रधानी के चुनाव की रंजिश को देखते हुए अंजाम दी गई थी।

​छात्रो की समस्याओं को लेकर ज्ञापन दिया डीएम को …


उरई (जालौन)। छात्र नौजवान संघ के पदाधिकारियों ने आज जिलाधिकारी को ज्ञापन देकर मान्यता प्राप्त हाईस्कूल एवं इंटर कालेज में छात्रों की समस्याओं को दूर करने की मांग की है। 

संगठन के ब्रजेश राव, प्रियंका सिंह, किरन कुमारी, अतुल कुमार, अभिषेक श्रीवास्तव, आदि ने जिलाधिकारी को ज्ञापनदेकर अवगत कराया कि हाईस्कूल एवं इंटर कालेजों में छात्र-छात्राओं को शैक्षिक सुविधाओं के नाम पर कुछ नही दिया जाता है। सरकारी एवं गैर सरकारी मान्यता प्राप्त हाईस्कूल एवं इंटर कालेजों में छात्राओं को पुस्तकालय की सुविधा नही दी जा रही है न ही विज्ञान वर्ग के छात्रों को प्रैक्टीकल उपकरण एवं रसायनों की कमी के कारण प्रयोगशालाओं में प्रयोग करने से बंचित रहना पड़ता है। विद्यालयों में खेलकूद उपकरण या तो विद्यालय में शोपीस बनकर रह गया है या फिर सीमित मात्रा में होने के कारण छात्र-छात्राओं को नही दिए जाते है। ग्रामीण क्षेत्रों से जिला मुख्यालय पढ़ने आने वाले छात्र-छात्राओं को मिट्टी का तेल एवं एलपीजी गैस की सुविधा नही है ऐसे  छा़त्र-छात्राओं को ब्लैक में सुविधाएं जुटानी पड़ती है इसलिए छात्र-छात्राओं की उक्त बुनियादी समस्याओं का निराकरण किया जाए। 

​प्रांतीय खंड के अतिरिक्त प्रभार के दौरान एक्सईएन ओझा ने चहेते ठेकेदारों पर की धनवर्षा …

◆ महिला ठेकेदार को थमाये 13 सप्लाई आर्डर
◆ बगैर सप्लाई किये छह सप्लाई आर्डर के 60 लाख का किया भुगतान

◆ बगैर बनी सड़क पर अतिरिक्त आइटम दर्शाकर ज्यादा रेटों पर किया लाखों का भुगतान

उरई (जालौन) : प्रांतीय खंड का अतिरिक्त प्रभार मिलने के बाद अधिशासी अभियंता एसपी ओझा ने विधानसभा चुनाव के दौरान अपने चहेते ठेकेदारों को दोनों आंखों से धनवर्षा करने में कोई कोताही नहीं दिखायी। इतना ही नहीं एक ठेकेदार को तो उन्होंने नियमों को दरकिनार कर 13 सप्लाई आर्डर के आदेश थमा दिये जिनकी सप्लाई भी नहीं हुयी ओर संबंधित ठेकेदार को उसका भुगतान भी कर दिया। हैरत की बात तो यह है उन्होंने एक संपर्क मार्ग जो बना ही नहीं उसका भुगतान कर दिया और उसी बगैर बनी सड़क पर अतिरिक्त आइटम का भुगतान भी ज्यादा रेटों पर कर भ्रष्टाचार की अंतिम सीढ़ी को भी लांघ चुके हैं।

गौरतलब हो कि पीडब्ल्यूडी-3 के अधिशासी अभियंता एसपी ओझा जो विधानसभा चुनाव के दौरान जैसे ही प्रांतीय खंड का अतिरिक्त कार्यभार मिला तो उन्होंने अपने चहेते ठेकेदारों को उपकृत करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी। इसीक्रम में उन्होंने महिला ठेकेदार शालिनी दीक्षित को स्टोर सामग्री की आपूर्ति के 6 सप्लाई आर्डर जो दस-दस रुपये के बताये जा रहे दे दिये। यदि विभागीय सूत्रों की मानें तो ठेकेदार शालिनी दीक्षित ने एक भी सप्लाई आर्डर पर किसी भी प्रकार की न तो कोई सप्लाई दी इसके बाद भी लगभग 60 लाख रुपये का भुगतान एक्सईएन ओझा ने करवा दिया। इसके अलावा भी उन्होंने 7 अन्य सप्लाई आर्डर सप्लाई एवं फिक्सिंग के महिला ठेकेदार के नाम पर थमा दिये। ताज्जुब की बात तो देखिये उन्होंने प्रांतीय खंड के प्रभारी एक्सईएन रहते महिला ठेकेदार के नाम से जितने भी सप्लाई आर्डर थमाये थे उनका भुगतान भी करने में कोई कंजूसी नहीं दिखाई। अब जबकि प्रांतीय खंड में पीएन श्रीवास्तव अधिशासी अभियंता बनकर आ गये हैं तो ऐसे में एक्सईएन ओझा के कार्यकाल में हुये भ्रष्टाचार की परतें खुलनी शुरू हो गयी है। विभागीय सूत्रों का कहना है कि लोक निर्माण विभाग के अधिशासी अभियंता एसपी ओझा ने महिला ठेकेदार के नाम से जितने भी सप्लाई आर्डर जारी किये थे उसमें वह स्वयं ही फिफ्टी-फिफ्टी के हिस्सेदार थे। लिहाजा जिन ठेकेदारों को काम नहीं मिल पाया था उन्होंने भी काम मिलने की लालसा में उस दौरान अपना मुंह नहीं खोला और इसी दौरान एसपी ओझा का प्रांतीय खंड से अतिरिक्त प्रभार छिन गया और उनके स्थान पर पीएन श्रीवास्तव प्रांतीय खंड में अधिशासी अभियंता बनकर आ गये। एसपी ओझा के भ्रष्ट कारनामों की श्रृंखला यहीं तक रहती तो गनीमत थी बल्कि उससे चार कदम आगे चलकर उन्होंने महिला ठेकेदार शालिनी दीक्षित के नाम से एक संपर्क मार्ग जिसका निर्माण ही नहीं हुआ था उसका भी भुगतान कर दिया। इसके अलावा भी बगैर बनी सड़क पर अतिरिक्त आइटम दर्शाकर दूसरी सड़क के बजट से ज्यादा रेटों में भुगतान किये जाने का मामला खुलकर सामने आया है। जैसे ही अपने भ्रष्ट कारनामों की परतें खुलने की जानकारी लोनिवि-3 के अधिशासी अभियंता एसपी ओझा को पता चली तो उन्होंने अपने ही विभाग के कुछ विश्वसनीय ठेकेदारों व कर्मचारियों को इस काम में जुटा दिया है कि वह हर संभव प्रयास करें कि उनके कार्यकाल के दौरान प्रांतीय खंड में जो कुछ भी गोलमाल हुये ऐसे मामलों को किसी भी तरह से वहीं पर दफन कर दिये जायें।

​एट के वन विभाग रेन्जर में पौधा रोपड़ के नाम पर है जीरो …

★ वन विभाग के वनाधिकारी को वन रेन्जर 90 प्रतिशत पौधा है जीवित की देते हैं प्रगति

★ रेन्जर अपनी काली करतूतों को छिपाने के लिए स्पोट पर न जाने पर 50 हजार का आफर देकरके करता रहा मना 

ऐट/जालौन : मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के ड्रीम प्रोजेक्ट में एक ही दिन मे पांच करोड़ पौधारोपड़ कराने पर गिनीज बुक पर अपनी पहचान बनाने के लिये अधिकारियों के भरोसे पर किया गया था वादा जो नहीं हुआ पौधारोपड़ कराने का विकास वल्कि कागजों पर शत् प्रतिशत पौधों को सुरक्छित बताया जा रहा है जो जिलाधिकारी व शासन को गलत रिपोर्ट भेजी जाती है 

सूत्र के हवाले मिली खबर पर जब एट के पचोखरा में स्थिति वन नर्सरी में जा करके शासन द्वारा लगवाये गये पौधों की कितने जीवित रहने के लिये मौके पर देखने जा रहे थे तब रेन्जर रहमान खान से मौके पर जाने को कहा गया तो रेन्जर ने जीवित पौधों को देखने के लिए मना किया और कहने लगा कि आप लोग जीपीएस के माध्यम से यहीं पर देख ले आप लोग और आप नहीं यदि नही जाते हैं तो आप लोगों को मैनेज किया जायेगा पत्रकार मैनेज होने से मना कर लिया तो रेन्जर सपा सरकार की दबंग आदत में बोला कि आप लोग मैनेज नही होगें तो डीएम एवं शासन में बैठे मन्त्रियों से भी हमारा तुम क्या कर लोगो सभी तो भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ा हुये है और वही पर नर्सरी में चारा साफ सफाई के कार्य में लगी महिलाओं को काम में लगाया गया है जिनकी मजदूरी रेन्जर द्वारा रू0 150 दिये जाते है यह सब आप बीती काम पर तैनात महिलाओं ने बताया गया है अब देखना यह है कि परत दर परत हुये भ्रष्टाचार करने वाले रेन्जर पर क्या कार्यवाही  होती है जंगल में पौधारोपड़ न के बराबर हुआ है और कमठा के साइड एक पर 15हेक्टेयर पर 13500पौधे लगाने का दावा कर रहे वनाधिकारी आर0बी0 अहिरवार तो शासन को 90प्रतिशत जीवित पौधों का दावा कर रहे है लेकिन मौके पर देखा जा करके 13500पौधों में महज 100से भी पौधे कम निकला जिनमें पत्तियाँ तो नही सूखे डन्ढल ही मिले और पौधारोपड़ एक मात्र धोखा ही ही तो है 

क्रासर —

वन रेन्जर रहमान खान से हमारे वायस अॉफ लखनऊ के सम्वाददाता ने पचोखरा नर्सरी में काम करने महिलाओं को मजदूरी क्या दी जाती है तो रेन्जर ने बताया कि मै तो सहकारी रेट₹174 दिये जाते है लेकिन रेन्जर दबंगी से कह रहा मेरा कोई कुछ नही कर पायेगा मेरी बहुत ही ऊंचे  लोगो से है महिलाओं को महज ₹150 ही दिये जाते अब देखना यह है कि प्रश्न चिन्ह बन करके रह जायेगा या भ्रष्ट रेन्जर पर क्या कार्यवाही होती हैं

हरिओम पचौरी हत्याकांड से ब्राम्हण समाज नाराज,कहा जल्द हो गिरफ्तारी …

◆ बंगरा के हरीओम पचैरी हत्याकांड पर विफरे ब्राहमण युवजन 

◆ गिरफ्तारी न होने पर दिया धरना प्रदर्शन का अल्टीमेटम

उरई/जालौन। राष्ट्रीय ब्राहमण युवजन महासभा की बैठक ठड़ेश्वरी मंदिर में जिलाध्यक्ष प्रदीप शुक्ला की अध्यक्षता में संपन्न हुई। जिसमें मुख्य रूप से बंगरा में समाज के प्रतिष्ठित व्यक्ति हरीओम पचैरी की गोली मारकर हुई हत्या पर रोष जताया गया और मांग की गई कि उनके मुकदमें में नामजद सभी आरोपियों को अविलंब गिरफ्तार किया जाये। बैठक में मुख्य अतिथि के रूप में सर्वेश मिश्रा चुर्खी उपस्थित थे। उन्होंने संगठन के बारे में बताया और कहा कि ब्राहमण समाज के उत्थान व समाज के लोगों पर हो रहे अत्याचारों की रोकथाम के लिए सभी सजातीय बंधुओं को एकजुट होना पड़ेगा। बंगरा में हरीओम पचैरी की हत्या को नृशंस बताते हुए उपस्थित लोगों ने रोषपूर्ण मुद्रा में कहा कि अगर सभी हत्यारोपियों की गिरफ्तारी न हुई तो ब्राहमण समाज द्वारा शक्ति प्रदर्शन के लिए अधिकारियों का घेराव कर सड़क जाम की जायेगी। बाद में संगठन के नेताओं ने भाजपा जिलाध्यक्ष उदयन पालीवाल से भी इस मांग को लेकर मुलाकात की। इस दौरान जिला सचिव उत्कर्ष, महामंत्री संस्कार शर्मा, जिला मंत्री आदर्श सोनकिया राजा सिकरी, अंशू मिश्रा, दीपक दीक्षित, अभय दीक्षित, शिवांकू चतुर्वेदी, विकास दुबे धंतौली, आदित्य मिश्रा, शिवम दुबे जिलेदार आदि उपस्थित रहे।

आधा दर्जन से अधिक सब्जी की दुकानें आग से स्वाहा …

48ddc9ff-8faa-49bc-a79b-245524f51bff (1)उरई/जालौन, कुलदीप मिश्रा । पिछले कुछ दिनों से गहोई सेवा मंडल एवं सब्जी विक्रेताओं के बीच चल रही रस्साकसी का खामियाजा करीब एक दर्जन सब्जी विक्रेताओं को अपनी दुकानों के आग से होम होने के रूप में भुगतना पड़ा। सब्जी विक्रेताओं ने खुलेआम गहोई सेवा मंडल के पदाधिकारियों पर उनकी दुकानें आग से स्वाहा करने का भी आरोप लगाया।
बीती रात बारह बजे करीब गोपालगंज स्थित सब्जी मंडी में अचानक आग भड़क उठी और जब तक सूचना पाकर फायर सर्विस की दमकल पहुंची तब तक दस सब्जी विक्रेताओं की दुकानें जलकर राख हो चुकी थी। इस आगजनी की घटना में सब्जी विक्रेता दीनानाथ, अनिल, लियाकत, आशिक, नईम, सुशील, फटूले, सुलेमान, इरफान, लल्ले की दुकानें जलने से लाखों का नुकसान बताया जा रहा है।

kulrhइस घटना को लेकर आज सुबह सब्जी विक्रेताओं में आक्रोश फैल गया और उन्होंने गहोई सेवा मंडल के पदाधिकारियों पर दुकानों में आग लगाने का आरोप लगाया। यहां उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों गहोई धर्मशाला के सामने सब्जी दुकानदारों के टीनटप्पर हटाने जाने की मांग को लेकर गहोई सेवा मंडल के पदाधिकारियों ने जिलाधिकारी को ज्ञापन भी दिया था। 15 जून को अतिक्रमण हटाने पहुंची पुलिस के सामने गहोई सेवा मंडल के पदाधिकारियों से तीखी नोकझोंक भी हुई थी। आज अचानक आज आगजनी की घटना ने सब्जी विक्रेताओं के द्वारा गहोई सेवा मंडल के पदाधिकारियों पर आरोप लगाया कि उनके द्वारा ही दुकानों को आग के हवाले किया गया है।

 

खुलासा ! प्रधान के चुनाव में हार पर बने मजाक व मार पीट ने युवक की बदले की भावना ने बना दिया हत्यारा …

 

बंगरा/जालौन : बदले की भावना किस हद तक जा सकती है यह मुझे बताने की जरूरत नहीं। ऐसी ही एक घटना 13 जून 2017 की है।

जिसमे बंगरा निवासी शिवम गुर्जर पुत्र दुष्यन्त गुर्जर ने चुनावी रंजिश के चलते हरिओम पचौरी पुत्र हरिसेवक पचौरी को अपने साथी अभिषेक पुत्र शत्रुघन सिंह के साथ मिल कर गोली मार कर मौत के घाट उतार दिया।

चूंकि मरने वाला व्यक्ति भाजपा का सक्रिय कार्यकर्ता था जिससे पुलिस प्रशासन के ऊपर काफी दबाब बनता जा रहा था। जिसमे पुलिस ने फुर्ती दिखाकर दोनों हत्यारोपियों को मुखबिर की सटीक सूचना के आधार पर झांसी बस स्टैंड से गिरफ्तार कर लिया जोकि कहीं भागने की फिराक में थे।
आरोपियों से इस बाबत पूँछ तांछ की तो बताया कि शिवम की दादी ने हाल में हुए प्रधान का चुनाव लड़ा था पर उनकी हार हुई जिससे गांव के हरिओम पचौरी व अन्य साथी आये दिन छींटाकसी करते थे इस बात पर उनसे मार पीट भी हुई लेकिन उस समय किसी प्रकार मामला शांत हो गया पर शिवम मन ही मन प्रतिशोध की भावना लिए मौके का इंतजार करता रहा फिर 13 जून की रात 9 या 10 के बीच उसे मौका मिल गया और अपने साथी अभिषेक के साथ मिल कर हरिओम को बंगरा भिण्ड मार्ग पर बंदूक से फायर कर मौत के घाट उतार दिया। इन अभियुक्तों का पहले से ही आपराधिक रिकार्ड मौजूद रहा है

पुलिस ने इन अभियुक्तों के पास से दो तमंचा व चार जिंदा कारतूस बरामद किया।

इनके खिलाफ मु0अ0सं0 94/2017 धारा 147, 148, 149, 302, 307, 504, 507 भादवि व 7 क्रिमिनल लॉ अमेंडमेंट एक्ट में 06 नामज़द अभियुक्तों के विरुद्ध अभियोग पंजीकृत किया गया है

पुलिस प्रशासन ने गिरफ्तार करने वाली टीम जिनमे प्रभारी निरीक्षक श्री रुद्र कुमार सिंह,वरिष्ठ उपनिरीक्षक शिवपाल सिंह,कांस्टेबल रूपेश शर्मा,राजकुमार रोहित रावत को पुरस्कृत करने का वादा किया।