​खन्ना थानाध्यक्ष ने कस्बा में चलाया पैदल मार्च …


【महोबा ब्यूरो : सन्दीप गुप्ता】

खन्ना/महोबा :जिलें भर में पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर पुलिस के द्वारा पैदल मार्च निकाला जा रहा है। इसके साथ ही पुलिस ने सघन वाहन चैकिंग अभियान चलाकर लोगो में सुरक्षा का एहसास कराया है। खन्ना  पुलिस ने भी पैदल मार्च करते हुए सड़क किनारे घूम रहे शोहदों को हड़का कर भगा दिया है।गौरतलब है कि इन दिनों एसपी अनीस अहमद अंसारी के निर्देश पर जिलें भर में पैदल मार्च किया जा रहा है। एसपी ने सख्त लहजे में कहा है कि कानून व्यवस्था मे लापरवाही किसी भी सूरत में बर्दाश्त नही किया जायेगा।  खन्ना थानाध्यक्ष शशि कुमार  पाण्डेय के नेतृत्व में पुलिस के द्वारा पैदल मार्च किया जा किया गया है। इसके साथ ही पुलिस के द्वारा सघन वाहन चैकिंग अभियान चलाया गया है। एसपी के निर्देश पर चल रहे इस अभियान से अपराधियों के होश उड़ गए है।

​पुलिस ने वारंटी अपराधी को किया गिरफ्तार …


【महोबा ब्यूरो : सन्दीप गुप्ता】

जैतपुर/महोबा : अजनर पुलिस अधीक्षक महोबा श्री अनीस अहमद अंसारी के कुशल नेतृत्व में एवं क्षेत्राधिकारी के कुशल पर्यवेक्षण में अजनर थानाध्यक्ष रीता सिंह मय हमराह पलिस बल द्वारा धारा 323/352/504/506.भादवि का वारंटी खेमचन्द्र पुत्र रमोला अहिरवार निवासी थाना अजनर को अजनर से गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है थानाध्यक्ष रीता सिंह ने कहा है कि जनता कि समस्याओं का निराकरण मेरा प्रथम उद्देश्य  है।

​शान्ति भंग में अजनर पुलिस ने तीन को भेजा न्यायालय …

【महोबा ब्यूरो : सन्दीप गुप्ता】

जैतपुर/महोबा : अजनर पुलिस अधीक्षक महोबा श्री अनीस अहमद अंसारी के कुशल नेतृत्व में एवं क्षेत्राधिकारी के कुशल पर्यवेक्षण में अजनर थानाध्यक्ष रीता सिंह ने मय हमराही पुलिस द्वारा तीन नफ़र अभियुक्तगण को शान्ति भंग  के मद्देनजर निरोधात्मक कार्यवाही कर न्यालय भेजा गया है सूरजसिंह पुत्र दयाराम राजपूत  निवासी महुआबांध देशराज राजपूत पुत्र दीनदयाल निवासी विजोरी ,मुकेश यादव पुत्र पहाड़ सिंह उपरोक्त अभियुक्त गण आपस  में गुटबाजी  कर मारपीट गाली गलोच कर शान्ति भंग कर  रहे थे।

चौकीदार गांव में सजग रहकर करें निगरानी : रीता सिंह


【महोबा ब्यूरो : सन्दीप गुप्ता】

जैतपुर पुलिस अधीक्षक अनीस अहमद अंसारी के निर्देश पर थानाध्यक्ष अजनर रीता सिंह ने थाना क्षेत्र के समस्त चौकीदारों की बैठक ली और उन्हें निर्देश दिये कि वह पर्व को देखते हुये गांव की सभी सूचनाएें तत्काल थाने में आकर दे, और नजर रखी जाये। गुरुवार को थाना परिसर में अजनर थाना क्षेत्र के समस्त चौकीदारों की बैठक सम्पन्न की गयी, थानाध्यक्ष रीता सिंह ने निर्देश दिये की ईद का पर्व नजदीक है, पर्व को शांति पूर्ण ढंग से सम्पन्न कराने के लिये चौकीदार गांव में पूरी निगरानी रखे और सजग रहे। 

किसी प्रकार की गड़बड़ी यदि हो रही है, तो तत्काल थाने में आकर सूचना दें। गांव में होने वाले विवादों की सूचना तत्काल पुलिस को दे, इसके अलावा थानाध्यक्ष ने स्वयं थाना क्षेत्र के ग्रामों का पुलिस बल के साथ भ्रमण किया और ग्राम प्रधानों और पूर्व प्रधानों से वार्ता कर उनसे पुलिस का सहयोग करने की बात कहीं।

​चरखारी को आज भी पर्यटन स्थल के नाम से जाना जाता है 


【महोबा ब्यूरो : संदीप कुमार】 

महोबा : बुन्देलखण्ड का मिनी कश्मीर चरखारी आज भी पर्यटन स्थल के नाम से पहचाना जाता है, यहां की अनमोल धरोहर आज भी देखने के लिये देशी, विदेशी लोग आते है। जरूरत है इन्हें संवारने व संरक्षण करने की हालांकि यहां के तालाब व झीलें का खुदाई कार्य सपा सरकार के शासन काल में कराया गया है, लेकिन ऐतिहासिक धरोहरों के संरक्षण की आवश्यकता है। 

आपको बताते चले कि बुन्देलखण्ड का एक अत्यंत वैभव सम्पन्न राजसी क्षेत्र रहा है, इस बात में कोई दोराय नहीं है। चरखारी नगरी में राज महल है, इस राज महल के चारों ओर नील कमल से अच्छादित तथा एक दूसरे से आन्तरिक रूप से जुड़े विजय सागर, मलखान सागर, वंशी सागर, जय सागर, रतन सागर, कोठी ताल नामक झीले है। चरखारी नगरी में वृज का स्वरूप एवं सौन्दर्य प्रदान करते कृष्ण के 108 मंदिर है। जिसमें सुदामा पुरी का गोपाल बिहारी मंदिर, रायनपुर का गुमान बिहारी मंदिर, मंगलगढ़ के मंदिर वख्त बिहारी मंदिर, बांके बिहारी मंदिर, तथा माडव्य ऋषि की गुफा है। इसके समीप ही बुन्देला राजाओं का आखेट स्थल टोला तालाब है। यह सब मिलकर चरखारी नगरी की सुन्दरता बढ़ा रहे है।

चरखारी का प्रथम उल्लेख चन्देल नरेशों के ताम्र पत्रों में मिलता है। चन्देलों के गुजर जाने के सैकड़ों वर्ष बाद राजा छत्रसाल के पुत्र जगत राज को चरखारी के एक प्राचीन मुंडिया पर्वत पर एक प्राचीन बीजक की सहायता से चन्देलों का सोने के सिक्कों से भरा कलश मिला। यह धन पृथ्वी राज चौहान ने पराजित होने के उपरांत जब परमाल और रानी मल्हना से महोबा से कालिंजर को प्रस्थान कर रहे थे तो उन्होंने चरखारी में छुपा दिया था।छत्रसाल के निर्देश पर जगत राज ने 20 हजार कन्यादान किये, 22 विशाल तालाब बनवाये, चन्देल कालीन मंदिरो व तालाबों का जीर्णोद्धार करवाया, किन्तु इस धन का एक भी पैसा अपने पास नहीं रखा। जगत राज ने ही भूतल से 300 फुट ऊपर चक्रव्यू के आधार पर एक विशाल किले का निर्माण करवाया। जिसमें मुख्यतः तीन दरवाजे है, सूपा द्वार जिससे किले को रसद हथियार सप्लाई होते थे, डयोढ़ी दरवाजा राजा, रानी के लिये अरक्षित था, इसके अतिरिक्त एक हाथी चिघाड़ फाटक भी मौजूद था। इस विशाल दुर्ग की सुन्दरता को देखते ही आज, कल आम आदमी के लिये प्रतिबंधित कर दिया गया है। इस किले के ऊपर 7 तालाब मौजूद है, बिहारी सागर, राधा सागर, सिद्ध बाबा का कुण्ड, राम कुण्ड, चौपरा, महावीर कुण्ड, बख्त बिहारी कुण्ड, मौजूद है। चरखारी किला अपनी अष्टधातु तोपो के लिये पूरे भारत में मशहूर रहा, इसमें धरती धड़कन, काली सहांय, कड़क बिजली, सिद्ध बख्शी, गर्भगिरावन तोपें अपने नाम के अनुसार अपनी भयावहता का अहसास कराती है, इस समय यहां काली सहाय तोप ही बची है जिसकी मारक क्षमता 15 किलो मीटर बतायी जाती है। बुन्देलखण्ड का कश्मीर चरखारी आज भी ऐतिहासिक धरोहरो और मंदिरों, झीलों, के लिये जाना जाता है। यहां की धरोहरों को बचाये रखने के लिये शासन, प्रशासन के अलावा सभी को आगे आना होगा।

​सेवायोजन कार्यालय में  24, 25 जून को होगा कृषि मेला : डीएम


महोबा,सन्दीप गुप्ता : जिलाधिकारी अजय कुमार सिंह ने बताया कि राष्ट्रीय बागवानी मिशन योजनान्तर्गत वर्ष 2017-18 में दो दिवसीय मेला/गोष्ठी का आयोजन दिनांक 24 व 25 जून, 2017 को सेवायोजन सभागार में प्रातः 10 बजे किया जाना है।गोष्ठी में औद्यानिकी की तकनीकी जानकारी के साथ संबंधित विभागों के स्टाल कृषकों के ज्ञानवर्धन हेतु लगाये जायेंगे।उन्होने बताया कि गोष्ठी में वैज्ञानिकों द्वारा तकनीकी जानकारी देना तथा किसानों की समस्याओं का समाधान, उत्कृष्ट बागवानी करने वाले कृषकों का सम्मान/पुरूस्कार वितरण, उत्कृष्ट प्रदर्श लाने वाले कृषकों को सम्मान व प्रशस्ति पत्र तथा स्प्रिंकलर सिंचाई तथा अन्य कार्यक्रमों हेतु किसानों का पंजीकरण, निवेश वितरण तथा चयनित कृषकों को स्प्रिंकलर सेट्स का वितरण आदि कार्यक्रम कराये जायेंगे।

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर योग करते डीएम व अधिकारी एवं गणमान्य नागरिक …

महोबा,सन्दीप गुप्ता। तृतीय अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर सरकार की मंशा के अनुसार जनपद महोबा में डाक बंगला मैदान पर जिलाधिकारी श्री अजय कुमार सिंह के नेतृत्व में तथा मुख्य अतिथि सदर विधायक राकेश गोस्वामी की उपस्थिति में योग दिवस बड़ी धूम-धाम से मनाया गया।जिसमें जनपद के समस्त अधिकारियों/कर्मचारियों तथा पूरे शहर के लगभग 5000 लोगों ने योगाभ्यास किया।योगाभ्यास का प्रशिक्षण पतंजलि योग समिति के प्रशिक्षकों द्वारा दिया गया तथा समस्त योग प्रक्रिया योगा प्रोटोकाल के तहत सम्पादित की गयी।योगाभ्यास के लिए महिलाआंे तथा पुरूषों के लिए प्रथक व्यवस्था की गयी।योगाभ्यास के दौरान योग करने वाली महिलाओं की सुरक्षा के लिए महिला पुलिस की तैनाती की गयी तथा सुरक्षा व्यवस्था का निरीक्षण पुलिस अधीक्षक अनीस अहमद अंसारी द्वारा किया गया।प्रशासन द्वारा योगाभ्यासियों के लिए पेयजल की समुचित व्यवस्था की गयी।योगाभ्यास करने हेतु दूर-दराज क्षेत्रों से आने वाले जनमानस के लिए यातायात की व्यवस्था की गयी तथा गाड़ियो की पार्किंग की व्यवस्था कार्यक्रम स्थल से बाहर की गयी।कार्यक्रम में मौजूद जनमानस ने कार्यक्रम की सराहना की तथा इस कार्यक्रम को अब तक का सर्वश्रेष्ठ कार्यक्रम बताया।सभी ने जिलाधिकारी के प्रतिनिधित्व तथा उनके द्वारा नामित अधिकारियों जिन्होेने इस कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए प्रबन्धन किया, की भूरि-भूरि प्रशंसा की।इस अवसर पर सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग उ0प्र0 द्वारा एलईडी वैन के माध्यम से लखनऊ में आयोजित मुख्य समारोह का सजीव प्रसारण किया गया।     


जिलाधिकारी महोदय ने बताया कि योग क्रिया मन, शरीर और आत्मा में चेतना जागृृत करने का कार्य करती है।योग लोगों को जोड़ने के साथ-साथ अनुशासन बनाये रखने को प्रेरित करता है।आज अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर महोबा के लोगों ने काफी संख्या में सहभागिता दिखाई, वो इस बात का द्योतक है कि लोग योग करने के लिए कृृत संकल्प हैं।उन्होने कहा कि हम अपने जीवन के समस्त कार्य-व्यापार शरीर के माध्यम से ही सम्पादित करते हैं अतः शरीर को निरोग व स्वस्थ्य रखने के लिए कम से कम 45 मिनट समय योग क्रिया को दैनिक रूप से देना आवश्यक है।आज योग दिवस के अवसर पर जिन लोगों ने योग की शुरूआत की है वो इसे सिर्फ औपचारिकता नहीं, अपितु दैनिक जीवन का हिस्सा बनायें।जिलाधिकारी ने कार्यक्रम में उपस्थित जनमानस, प्रशिक्षकों तथा नोडल अधिकारियों द्वारा कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए सभी को धन्यवाद दिया।