​अवैध कब्जा में संलिप्त अधिकारियों के खिलाफ होगी कार्रवाई- डीएम

◆ डीएम ने एंटी भू माफिया टास्क फोर्स की समीक्षा की
◆ विभागों को भूमि अभियान चला अवैध कब्जा हटाने के दिए निर्देश 

जिलाधिकारी अजय कुमार सिंह की अध्यक्षता में एंटी भू माफिया टास्क फोर्स की समीक्षा बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित हुई।     

बैठक में जिलाधिकारी ने सभी विभागीय अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि वन विभाग की 74 एकड़ जमीन जिस पर अवैध रूप से कब्जा किया गया है उसे अभियान चलाकर खाली करायें।उन्होने सभी विभागों को अपनी-अपनी जमीने चिन्हित कर अतिक्रमण हटाने के निर्देश दिए तथा इस का खयाल रखा जाये कि कोई भी गरीब बेघर न हो।जिलाधिकारी ने सख्त निर्देश दिया कि किसी भी गरीब को अनावश्यक परेशान न किया जाए।जिलाधिकारी ने ग्राम सभा की भूमि को विशेष रूप से चिन्हित कर कब्जेदार के खिलाफ एफआईआर करने के निर्देश दिए।साथ ही उन्होने सभी विभागों की कार्यवाही की समीक्षा में विभागों द्वारा कार्यवाही पर शिथिलता बरतने पर कड़ी नाराजगी व्यक्त की।उन्होनेे कहा कि जो भी अधिकारी अवैध कब्जा करवाने में सलिप्त हैं उनको चिन्हित कर उनके विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जाये।उन्होने विकास विभाग के सभी अधिकारियों को निर्देशित किया कि उनके अधीनस्थ आने वाले सरकारी भवन जैसे आंगनवाड़ी केन्द्र, पंचायत भवन आदि सरकारी परिसम्पत्तियों पर अवैध कब्जे को चिन्हित कर उन्हे खाली करायें तथा कब्जेधारक के विरूद्ध कानूनी कार्यवाही करें।    

बैठक में मुख्य विकास अधिकारी शंकर लाल त्रिपाठी, अपर जिलाधिकारी आनन्द कुमार, पुलिस उपाअधीक्षक जितेन्द्र दुबे, उपजिलाधिकारी चरखारी मृृदुल चैधरी, खण्ड विकास अधिकारी चरखारी अश्विनी सोनकर, खण्ड विकास अधिकारी जैतपुर महिमा विद्यार्थी, खण्ड विकास अधिकारी पनवाड़ी पी.एन.दीक्षित, तहसीलदार महोबा राजेन्द्र तिवारी, तहसीलदार सौरभ पाण्डेय, तहसीलदार कुलपहाड़ अरूण श्रीवास्तव, भूलेख अनुभाग के संतोष कुमार सक्सेना, अधिशाषी अभियन्ता लोक निर्माण विभाग मानिकचन्द्र, अधिशाषी अभियन्ता सिंचाई विभाग विशम्भर सिंह, अपर जिला सूचना अधिकारी सतीश कुमार यादव, शिवबरन प्रचार सहायक सहित अन्य विभागों के कर्मचारी उपस्थित रहे।